1

रुकावटें तो सिर्फ ज़िंदा इंसान के लिए

रुकावटें तो सिर्फ ज़िंदा इंसान के लिए हैं
मय्यत के लिए तो सब रास्ता छोड देते हैं

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.