1

बेमौसम बारिश का दर्द

कितने अजब रंग समेटे है, ये बेमौसम बारिश खुद में
अमीर पकोड़े खाने की सोच रहा है और किसान जहर

~ विशाल

Share This

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.