9

Aakhir ye (♥) Dil kya chahta h ?

दिल को अपने काबू में करना, इतना आसान नहीं यहां
जो जितनी कोशिश करता, वो होता उतना ही हैरान यहां

यह दिल पल भर में ही सारी दुनिया घूम लेता है…♥
अपनी ही धुन, अपनी ही मस्ती में झूम लेता है…♥

कभी अपने, तो कभी औरों के बारे में सोचता है
खुद इसको भी नहीं पता, ये दिल क्या चाहता है

कितना भी समझा लो, पर ये दिल कुछ नहीं समझता
ना जाना हो जिस रस्ते, ये जाकर सिर्फ वही भटकता है

9 Comments

  1. I have been subscribed this thead for a long. Every time, when A shayari is posted, I received it directly. And believe me guys, these are awesome everytime.
    Only thing I wanna say is that you guys are awesome.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.