0

दिल मे आखिर क्या है तुम्हारे

Dil me kya hai tumhare Shayari for Her

 

मोहब्बत मे कुछ यू हाल है मेरा,
तु मिली नहीं बस खयाल है तेरा
मुस्कुरा कर क्यों गुजर जाती हो सामने से
दिल मे आखिर क्या है तुम्हारे, ये सवाल है मेरा

~ दीपक

 

Share This
2

वो मोहब्बत ही क्या जिसके काबिल ना बन सके

वो ख़्वाब ही क्या जिसे पूरा ना कर सके….
वो मंजिल ही क्या जिसे हासिल ना करे सके
वो बेगुनाही ही क्या जिसे साबित ना करे सके
और वो मोहब्बत ही क्या जिसके काबिल ना बन सके

~ Sweety Phogat

Share This
1

शमा और परवाने की इश्क़ मोहब्बत शायरी

ना जाने मुहब्बत में कितने अफसाने बन जाते है,
शमां जिसको भी जलाती है, वो परवाने बन जाते है।
कुछ हासिल करना ही इश्क कि मंजिल नही होती,
किसी को खोकर भी, कुछ लोग दिवाने बन जाते है।

Share This

Love Broken Heart Sms in Hindi on Pain

जिसने भी की मुहब्बत, रोया जरूर होगा।
वो याद में किसी के खोया जरूर होगा।

दिवार के सहारे, घुटनों में सिर छिपाकर ,
वो ख्याल में किसी के खोया जरुर होगा।

आँखों में आंसुओ के, आने के बाद उसने,
धीरे से उसको उसने, पोंछा जरुर होगा।

जिसने भी की मुहब्बत, रोया जरूर होगा।

Share This
4

कैसे जीऊ मैं खुशहाल ज़िन्दगी | एक और अधूरी मोहब्बत

कैसे जीऊ मैं खुशहाल ज़िन्दगी
उसकी मोहब्बत ने हमको मारा हैं

रखा था जो दिल संभाल कर
उस दिल को हमने हारा हैं

बनता हैं महफ़िलो की शान वो
पर बनता ना मेरा सहारा हैं

दूर भी हम कैसे रह सकते हैं
इंसां वो सबसे लगता प्यारा हैं

जाए कहा अब उसे छोड़ कर
बिन उसके ना अब गुजारा हैं

इंतजार में कटते हैं दिन और रात
दूजा ना अब कोई और चारा हैं

 

~ पूनम

Share This
2

True Dard Bhari Mohabbat Par Shayari

दर्द की जब कभी इन्तहा होती हैं
दवा की जरुरत फिर कहाँ होती हैं
तन्हाई, बेचैनी और बस कुछ आहें
इनमे पल कर ही मोहब्बत जवां होती हैं

Share This
6

तेरी आँखों में नहीं, तेरी रूह में बस्ता हूँ

तेरी दुआओं का असर है, जो अब तक मैं सलामत हूँ.!
तेरी आँखों की नमी नहीं, हाथों की लकीरों में बस्ता हूँ
मैं जानता हूँ जान-ए-जहाँ, तुझे बस मोहब्बत है मुझ से
तेरी साँसों की राह पकड़…., तेरी रूह में बस्ता हूँ….|

~ Ravinder Ravi (Sagar)

Share This

Ehsaaso Se Bhari Mohabbat Ki Shayari

मोहब्बत एक अहसासों की पावन सी कहानी है !
कभी कबिरा दीवाना था कभी मीरा दीवानी है !!
यहाँ सब लोग कहते हैं, मेरी आंखों में आँसू हैं !
जो तू समझे तो मोती है, जो ना समझे तो पानी है !!

 

~ कुमार विश्वास

Share This