0

जो समझते हैं खुद को बादशाह

राहें बदले या फिर बदले वक़्त
हम तो अपनी मंजिल जरूर पाएंगे
जो लोग समझते हैं खुद को बादशाह
एक दिन उसे अपनी महफ़िल में जरूर नचाएंगे

Page 5 of 9
1 2 3 4 5 6 7 8 9