0

गिराया जिसे अपनों ने

गिराया जिसे अपनों ने वो उठकर फिर क्या करता
परायों से जो लड़ा नहीं वो अपनों से क्या लड़ता

~ अतुल शर्मा

 


 

Giraya jise apno ne Wo uthkar fir kya karta
Parayo se jo lada nahi Wo Apno se kya ladta

~ Atul Sharma

 

Share This
3

मसरुक दुनिया पर शायरी

सच कहूँ तो मुझे एहसान बुरा लगता है,
जुल्म सहता हुआ इंसान बुरा लगता है,
कितनी मसरुक हो गयी है ये दुनिया,
एक दिन ठहरे तो मेहमान बुरा लगता है।

Share This
9

Heart Touching Shayari | Attitude Bhari Lines

Mujhe aasmano mein udne ka shok hain
Parindo ke beech khelne ka shok hain,
Agar mjhe Jaanna ho to jara dur se hi jaanna
Mai parwana hu mjhe aag me jalne ka shok h

 


 

मुझे आसमानो में उड़ने का शोक हैं,
परिंदो के बीच खेलने का शोक हैं,
अगर मुझे जानना हो तो जरा दूर से ही जानना
मैं परवाना हूँ, मुझे आग में जलने का शोक हैं|

Share This
2

Deep But True Status on Feelings & Words

हर एक लिखी हुई बात को
हर एक पढ़ने वाला नहीं समझ सकता

“क्योंकि” लिखने वाला
“भावनाएं” लिखता है
और
लोग केवल “शब्द” पढ़ते हैं।

Share This
Page 1 of 7
1 2 3 4 5 6 7