1

ज़िन्दगी की हक़ीक़त

ज़िन्दगी की हक़ीक़त बस इतनी सी हैं,
की इंसान पल भर में याद बन जाता हैं

Comments

comments

One Comment

  1. na jane qu mare akh se bah raha ye ashu hai.rukata nahi tham ta nahi ye kaisa madahosi hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *