0

देसी हरयाणवी जाट के ठाठ स्टेटस

कमाने वाले आठ है और खाने वाले साठ हैँ,
फिर भी हमारे ठाठ हैं…कयोकि हम जाट है..!!

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *