0

अपनों का धोखा स्टेटस

रिश्तो की दलदल से, …. मैं जब भी बाहर आया…….,
हर साजिश के पीछे किसी न किसी अपने को ही पाया

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *