0

वो पास होकर भी मेरे पास नहीं

पास वो मेरे इतने कि दूरियो का कोई एहसास नहीं,
फिर भी जाने क्यों वो पास होकर भी मेरे पास नहीं

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *