1

इबादत है इश्क़

जिस्म से रूह तक जाए तो हकीकत है इश्क
और रूह से रूह तक जाए तो इबादत है इश्क़