3

तेरा साथ पाकर मेरा हर लम्हा खूबसूरत

साथ तेरा जो मिला तो दिल में सुकून सा लगने लगा
तेरा ना छोड़ेंगे साथ कभी हर पल ख़्वाब सजने लगा

नहीं पता था ज़िन्दगी क्या होती हैं तुझसे मिलने से पहले
तुम आये ज़िन्दगी में मेरी तो सोया अरमान मचलने लगा

तुम ही से तो जुडी हैं अब हर खुशिया मेरी जानेमन
तुम्हारी छुहन से मेरा हर लम्हा अब महकने लगा

पता ना चला कब कौन सी डोर तेरी ओर खिंच लायी
तेरा साथ पाकर मेरा हर लम्हा खूबसूरत बनने लगा