1

मोटिवेशनल शायरी मंज़िल पर

धुप हैं किस्मत में लेकिन,
छाया भी कही तो होगी
जहाँ मंजिले होगी अपनी
कोई तो ऐसी ज़मीं होगी

Comments

comments

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *